अब रीडिंग लेने के तुरंत बाद हाथों-हाथ मिलेगा बिजली बिल

0
341

आजतक खबरें,हरियाणा:अब मीटर रीडिंग लेने के बाद कई दिनों तक अब लोगों को बिजली बिल का इंतजार नहीं करना होगा।किसी को अपने मीटर का बिल न मिलने,तो किसी को बिल ज्यादा आने की शिकायत है।

लेकिन दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम ने इस समस्या के स्थाई समाधान पर काम करना शुरू कर दिया है।जल्दी ही प्रदेश के बिजली उपभोक्ताओं को अब एट द स्पॉट अर्थात जैसे ही मीटर रीडर मीटर से रीडिंग लेगा तुरंत ही उसका बिल उपभोक्ता को दे दिया जाएगा।

मीटर रीडर जब रीडिंग लेने के लिए आएगा तो उसके पास छोटा प्रिंटर होगा।उसकी सहायता से वह उसी समय उपभोक्ता का बिल हाथों हाथ दे देगा।

बिल जमा कराने के लिए बिल जनरेट होने के बाद कम से कम 10 दिन का समय दिया जाएगा।उपभोक्ताओं को बिल जमा कराने के लिए अंतिम तारीख भी अलग-अलग होंगी।

निजी कंपनी इसके लिए 15 मार्च से ट्रायल शुरू कर देगी।बिजली बिल वितरण को लेकर उपभोक्ताओं को अधिक से अधिक सुविधाएं देने के लिए निजी कंपनी ने यह नई पहल की है।बिजली निगम के अधिकारियों और निजी कंपनी के कर्मचारियों की बैठक में नई पहल को लेकर मंथन किया गया है।इसके बाद इसे अंतिम रूप देने का निर्णय लिया गया है।

बिजली निगम अब से पहले उपभोक्ताओं के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर बिल राशि और उसे जमा कराने की तारीख का मैसेज भेजता रहा है।नई पहल के तहत अब नए बिल में कितनी मीटर रीडिंग होंगी इसका मैसेज भी दिया जाएगा।यह मैसेज मीटर रीडिंग लेते ही उसी समय उपभोक्ता के मोबाइल पर आ जाएगा।उपभोक्ता कहीं पर भी हो मीटर रीडिंग लेते ही स्वत: ही उसके पास मैसेज पहुंच जाएगा।

दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम ने निजी कंपनी को बिल वितरण और मीटर रीडिंग लेने की जिम्मेदारी सौंपी है। कंपनी ने उपभोक्ताओं को सुविधा देने के लिए यह पहल की है।सबसे पहले इसे शहरी क्षेत्र से ही शुरू किया जाएगा।इसके बाद इसे ग्रामीण क्षेत्रों में यह सुविधा सुलभ कराई जाएगी।

निजी कंपनी के इंचार्ज राकेश गोयत का कहना है कि लोगों को मीटर रीडिंग और बिल वितरण के मामले में किसी प्रकार की दिक्कत न हो और अधिक से अधिक सुविधाएं सुलभ कराई जाएं इसके लिए कंपनी ने पहल की है। इस पर 15 मार्च से काम शुरू करने की तैयारी है।सबकुछ ठीक ठाक रहा तो 15 मार्च से शहरी क्षेत्रों में मौके पर बिल थमाने,रीडिंग की सूचना मोबाइल पर देने जैसी सुविधाएं शुरू कर दी जाएंगी।

मीटर रीडिंग के साथ ही उपभोक्ताओं को बिल मिलने से वे अपने बिल को समय से भर पाएंगे।बिजली निगम की ओर से उपभोक्ताओं को बिल मिलने की तारीख से 10 दिनों की अवधि में बिल जमा कराने का समय दिया जाएगा। इस बिल पर उपभोक्ता को रीडिंग का रीयल टाइम व डेट मिलेगी। बिल देते हुए कर्मचारी की लोकेशन भी फीड होगी।

उपभोक्ताओं को एट द स्पॉट बिल मिलने के बाद 48 घंटों में बिल की डिटेल ऑनलाइन शो करना शुरू कर देगा। क्योंकि इस दौरान बीसीआईटीएस के सर्वर पर डाटा आ जाता है। इसके बाद उपभोक्ता यूएचबीवीएन की साइट पर जाकर भी बिल जमा करा सकते हैं। इसके लिए उपभोक्ताओं से कोई ऑनलाइन ट्रांजेक्शन चार्ज वसूली नहीं की जाएगी।

 

      अमित चौधरी

LEAVE A REPLY