बेटियों के जन्म पर भी उतनी ही खुशी मनानी चाहिए जितनी बेटों के जन्मदिन पर : शालू

0
130

आजतक खबरें,फरीदाबाद :बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत आंगनबाड़ी केंद्राें पर बेटी जन्मोत्सव मनाया जा रहा है।गांव मोहना के आंगनबाड़ी केंद्र पर बेटी जन्मोत्सव मनाया गया।इस मौके पर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ सप्ताह के तहत बेटियों का जन्मदिन केक काटाकर मनाया।बेटी के जन्मदिन पर खुशी मनाई और मिठाइयां बांटी गई।बालिका जन्मदिवस पर महिलाओं ने नृत्य और गायन भी किया।

कार्यक्रम की अध्यक्षता महिला एवं बाल विकास बल्लभगढ़ ग्रामीण की सुपरवाइजर शालू ने की।महिला एवं बाल विकास बल्लभगढ़ ग्रामीण की सुपरवाइजर शालू ने कहा कि हमें बेटियों के जन्म पर भी उतनी ही खुशी मनानी चाहिए जितनी की बेटों के जन्मदिन पर मनाते हैं।हमें बेटियों को अधिक से अधिक शिक्षा देकर उन्हें आत्मनिर्भर बनाना चाहिए।

सुपरवाइजर शालू ने  बताया कि एक सप्ताह तक चलने वाले कार्यक्रम के दौरान ग्रामीण क्षेत्र के आंगनबाड़ी सेंटरों पर बेटी के महत्व के बारे में जागरूक करने के साथ उन्हें बेहतर शिक्षा दिलाने के लिए बेटियों के प्रति अभिभावकों को सकारात्मक सोच रखने के लिए बताया जाता है।

वहीं सुपरवाइजर गीता ने कहा कि बेटियों को बेटों के बराबर ही सम्मान मिलना चाहिए।तभी हम बेटियों को समाज में बराबर का मान सम्मान दिलवा सकेंगे।उन्होंने कहा कि अगर बालक एक घर का चिराग है तो बेटियां दो परिवारों को जोड़ने के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं।

सुपरवाइजर राजरानी ने कहा कि बेटियां बड़ी होकर परिवार की शान बढ़ाती हैं।सुपरवाइजर राजरानी ने महिलाओं को मातृ वंदना योजना के बारे में भी विस्तार से जानकारी दी।

महिलाओं ने शपथ ली कन्या भ्रूण हत्या जैसी बुराई को जड़ से समाप्त करने के लिए काम करेंगी। माैके पर सुपरवाइजर राजरानी,गीता,पंच सीमा,द्रोपती,कविता,सोनिया,सुनीता,कुसुम,सुरेश,कश्मीरा,सुलोचना व् सुनीता आदि उपस्थित थे।

 

 

LEAVE A REPLY