भाजपा ने कमाई, घरेलू आय और बजट को ध्वस्त कर दिया है:-सुधा भारद्वाज

0
85

आजतक खबरें,फरीदाबाद(अमित चौधरी):-जनता को सबसे अधिक प्रभावित करने वाली वास्तविक समस्या इस समय पेट्रोल, डीज़ल और रसोई गैस की महंगी कीमतें हैं, जिसकी वजह से खाने-पीने और इस्तेमाल करने की चीज़ों के दाम आसमान छू रहे हैं. शायद यह इतिहास में पहली दफा है कि टमाटर की कीमतें पेट्रोल और डीज़ल की कीमतों को भी मात दे रही हैं. निर्माण सामग्री, जैसे सीमेंट, लोहा, और स्टील के दामों में लगभग 40 प्रतिशत से 50 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हो गई है. “अभूतपूर्व मूल्य वृद्धि और मुद्रास्फीति ने देश में हर परिवार की कमाई, घरेलू आय और बजट को ध्वस्त कर दिया है

उक्त शब्द महिला कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सुधा भारद्वाज ने महंगाई के खिलाफ कांग्रेस पार्टी द्वारा 12 दिसंबर को दिल्ली में ‘महंगाई हटाओ रैली’ संदर्भ में जिला महिला कांग्रेस की अध्यक्षों सहित महिला पदाधिकारियों के साथ फरीदाबाद में एक बैठक के दौरान चर्चा करते हुए कहे।साथ ही बैठक में मौजूद कांग्रेस महिला जिलाध्यक्ष,प्रदेश कांग्रेस लीगल कोऑर्डिनेटर को भारी संख्या में सदस्यों के साथ दिल्ली में आयोजित होने वाली इस महंगाई हटाओ रैली में भारी संख्या में पहुंच कर फरीदाबाद की भागीदारी सुनिश्चित करने की जिम्मेदारियां दी।

महिला कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सुधा भारद्वाज ने बातचीत में कहा कि भाजपा की “अभूतपूर्व मूल्य वृद्धि और मुद्रास्फीति ने देश में हर परिवार की कमाई, घरेलू आय और बजट को ध्वस्त कर दिया है साथ ही कहा कि देश में बढ़ती महंगाई को लेकर विपक्ष ने अपनी आवाज बुलंद करने का निर्णय लिया है।

बैठक में मौजूद जिला महिला कांग्रेस अध्यक्ष सोनू अहलावत ने कहा कि देश की जनता को सबसे ज्यादा परेशानी पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की कीमतों की वजह से है. पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ने से खाद्य पदार्थ की दाम आसमान छू रहे हैं.” उन्होंने कहा कि हर परिवार खाने के तेल, दालों और खाद्य पदार्थों की महंगाई से प्रभावित है.

तो वही प्रदेश कांग्रेस लीगल कोऑर्डिनेटर वंदना सिंह ने कहा कि अगर तीन कृषि बिल कानून किसानों के हित में था तो भाजपा सरकार ने इसे वापस क्यों किया। सरकार द्वारा तीनों बिल वापस लेना किसानों के संघर्ष की जीत है। वंदना सिंह ने कहा कि कांग्रेस शुरू से ही मजदूर, किसान ,आम आदमी के हित में खड़ी रही है और आगे भी खड़ी रहेगी।

बतादें,पार्टी द्वारा जारी किए गए वक्तव्य में कहा गया है कि महंगाई का विरोध करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी ने यह निर्णय लिया है कि ‘महंगाई और मूल्य वृद्धि’ पर पूरे देश का ध्यान आकृष्ट करने के लिए, 12 दिसंबर, 2021 को दिल्ली में एक व्यापक ‘‘महंगाई हटाओ रैली’’ का आयोजन किया जाएगा.इस रैली के माध्यम से मोदी सरकार को चेतावनी दी जाएगी कि वे अप्रत्याशित रूप से बढ़ाई गई कीमतों को वापस लें.

बताया जा रहा है कि इस दौरान पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी रैली को संबोधित करेंगे। इससे पहले 29 नवंबर से शुरू हो रहे संसद के शीतकालीन सत्र को लेकर कांग्रेस ने बीते दिन पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास 10 जनपथ पर अहम बैठक की थी। इसमें आगामी सत्र में पार्टी की रणनीति पर चर्चा हुई और तय किया गया कि किन-किन मुद्दों पर सरकार को घेरा जाएगा।

गौरतलब है कि देश के पांच राज्यों में कुछ ही महीने में विधानसभा के चुनाव होने हैं ऐसे में कांग्रेस महंगाई समेत कई और दूसरे मुद्दों पर सरकार को घेरने के लिए पूरी तैयारी में जुट गई है.

LEAVE A REPLY