मंजिल पाने के लिए एक जनून सा दिल में जगाना होता है: युएम.ए मुरतोजा

0
152

आजतक खबरें,फरीदाबाद: यूं ही नहीं मिलती राही को मंजिल एक जनून सा दिल में जगाना होता है,पूछा चिड़िया से कैसे बनाया आशियाना बोली -भरनी पड़ती है उड़ान बार बार,तिनका तिनका उठाना पड़ता है उक्त शब्द फिट इंडिया मूवमेंट अभियान को साकार करते हुए एक मिनट में 101 नीं-स्ट्राइक लगाकर अपना नाम गिनीज वल्र्ड रिकॉर्ड में दर्ज करवाने वाले गुडग़ांव के एमए मुर्तजा ने गुरुग्राम में आयोजित भव्य समारोह में सम्मानित होते हुए कहे।

जब मार्शल आर्ट की बात होती तो ‘द ग्रेट ब्रूस ली’ को जरूर याद किया जाता है.उनकी तेजी का उस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है जब 1962 में ब्रूस ली ने एक फाइट के दौरान अपने विपक्षी पर एक के बाद एक ताबड़तोड़ 15 पंच और एक किक जड़ते हुए मार्श आर्ट की दुनिया में एक बड़ी लाइन खींच दी थी.अब बने एक विश्व रिकॉर्ड को देख कर तो लगता है कि फरीदाबाद के एम ए मुर्तोजा भी ब्रूस ली द्धारा खींची गयी उस लाइन के सामने एक और बड़ी लाइन खींचने की तैयारी में हैं जिन्होंने एक मिनट में 101 नीं-स्ट्राइक लगाकर अपना नाम गिनीज वल्र्ड रिकॉर्ड में दर्ज करवा दिया।

युएम.ए मुरतोजा ने बताया कि कि मार्शल आर्ट की बात करते ही हमारे मन में लड़ाई,मारपीट,आदि की कल्पना करने लगते है।ये एक ऐसी कला है जिस से हम अपने दुश्मन को कुछ ही देर में दुल चटा सकते है।लेकिन मार्शल आर्ट से न सिर्फ हम अपने आप को सैफ रख सकते है बल्कि हम अपने शरीर को भी फिट रख सकते है।दुनिया भर में बहुत सी ऐसी जगह है जहाँ पर ऐसी कला को सिखाया जाता है।साथ ही मुरतोजा ने हरियाणा सरकार से मार्शल आर्ट खेल को बढ़ावा देने के लिए भी अपील की।

युएम.ए मुरतोजा ने केंद्र व प्रदेश सरकार से आग्रह किया है कि उन्हें खेल को बढ़ावा देने के लिए सहयोग दिया जाए, ताकि आने वाले समय में वह और रिकॉर्ड बना सकें और प्रदेश का नाम रोशन कर सकें।

युएम.ए मुरतोजा ने कहा कि समाज में स्वास्थ्य के प्रति आज भी जागरूकता की कमी है।हमें आम जनता को जागरूक करने का अभियान चलाना चाहिए।उन्होंने सभी उम्र के लोगों को स्वस्थ रहने के लिए नियमित व्यायाम व अपने संपूर्ण शरीर को स्वच्छ रखने की सलाह दी।

युएम.ए मुरतोजा ने खास कर युवाओं को नशे से सदैव दूर रहने का आह्वान किया और फिट रहने के लिए पौष्टिक आहार सेवन पर बल दिया।ग्रोवर ने कहा कि स्वास्थ्य ही जीवन का अमूल्य धन है।इसके बिना हमारी उत्पादकता बुरी तरह प्रभावित होती है।स्वास्थ्य के बारे में समाज के हर वर्ग व व्यक्ति का जागरूक होना जरूरी है।

बतादें,एम. ए मुरतोजा ने एक ही पैर लगातार एक मिनट में १०१ बार घुटने का अटेक करके गीनिज वर्ल्ड रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज करा लिया.उन्होंने यह रिकार्ड ३० मई २०१९ को बनाया।जिसका प्रमाण पत्र गीनिज संस्था की ओर से अब जारी हुआ

अब एम ए मुर्तोजा को फिट इंडिया को प्रोमोट करना हैं.इनकी उम्र ४० साल की हैं यह फरीदाबाद के रहने वाले हैं किन्तु नौकरी और मार्शल आर्ट्स के कारण यह गुरुग्राम में ही रहने लगे यह गुरुग्राम की एक कम्पनी में भी जॉब करते हैं।प्राइवेट नौकरी व् काफी व्यस्ता के बावजूद एम ए मुर्तोजा हर रोज शाम को आपनी मार्शल आर्ट्स का अभ्यास भी करते हैं और बच्चों को मार्शल आर्ट्स सीखाते है ।

बताते हैं मार्श आर्ट का सिद्धांत इतना पुराना है।यदि हिन्दू पुराणों को खंगाल कर देखा जाए,तो ऐसी मान्यता है कि मार्शल आर्ट के संस्थापक भगवान परशुराम हैं।इसी विध्या को आज के युग में मार्शल आर्ट के नाम से जाना जाता है।ऐतिहासिक तथ्यों के अनुसार कलरीपायट्टु नामक इस विध्या को भगवान परशुराम एवं सप्तऋषि अगस्त्य देश के दक्षिणी भाग में लेकर आए थे।

 

 

LEAVE A REPLY