पाॅलिथिन का प्रयोग न कर,कपड़े के थैला लेकर ही बाजार में आए: sdm बल्लबगढ़

0
111

आजतक खबरें,फरीदाबाद:अपने शहर को न करे मैला,साथ ले कर चले थैला,प्लास्टिक हटाओ-बीमारी भगाओ,प्लास्टिक बैग को न कहे-भविष्य को हां कहे के श्लोगनों के साथ नागरिकों को पाॅलिथिन से पर्यावरण को हो रहे गंभीर खतरों के प्रति बल्लबगढ़ के नागरिकों को सचेत करने के लिए सुनहरी किरण संस्था की तरफ से चलाये जा रहे पर्यावरण जागरूग अभियान के सदस्य व् थैले के प्रति इस जागरूक रैली के कार्यक्रम संयोजक योगेश के नेतृत्व में सुनहरी किरण संस्था, समाज सहयोग समिति के अधिकारियों व् कार्यकर्ताओं ने आज यहां बल्लबगढ़ स्थित बाजार में पैदल मार्च कर जागरूक अभियान चलाया।

sdm बल्लबगढ़ त्रिलोकचंद  ने झंड़ी दिखा बाजार में जागरूक अभियान की शुरूवात करते हुए शहरवासियों व दुकानदारों से अपील की कि वे प्लास्टिक व पाॅलिथिन का प्रयोग न करें और कपड़े के थैले लेकर ही बाजार में आए।

बल्लबगढ़ sdm त्रिलोकचंद ने प्लास्टिक सामग्रियों से पर्यावरण को हो रहे गंभीर खतरों के प्रति आगाह करते हुए कहा कि धरती को हरा-भरा रखने के लिए और मानव कल्याण के लिए इन चीजों का संपूर्ण बहिष्कार किया जाना अति आवयश्क है।

 बल्लबगढ़ sdm ने दुकानदारों से भी अपील की है कि वे पाॅलिथिन में सामान बेचना बंद करें,जिससे कि उन्हें नगर निगम फरीदाबाद के द्वारा की जाने वाली दण्डात्मक कार्यवाही का सामना न करना पड़े।इसी तरह दुकानदारों के लिये भी प्रावधान किया गया कि वह सामान बेचने के लिये ऐसी थैलियों का इस्तेमाल न करें।

sdm ने उक्त समारोह में उपस्थित सभी लोगों को पाॅलिथिन व सिंगल यूज प्लास्टिक का प्रयोग न करने की शपथ भी दिलवाई।

इस कार्यक्रम के लिए विशेष रूप से मछगर स्थित सुनहरी किरण संस्था की अनुराधा शर्मा,सीमा भारद्धाज,सोनू चौधरी के  नेतृत्व में चलाये जा रहे सिलाई केंद्र से संस्था द्वारा सिलवाए गए करवाए गए कपड़े के थैलों को बल्लबगढ़ बाजार में जागरूक रैली के दौरान sdm,विधायक भाई टिपर चंद शर्मा,पार्षद बुद्धा सैनी,पार्षद दीपक यादव,बस अड्डा प्रधान ,प्रेम खटटर,समाजसेवी वेदपाल दायमा सहित कार्यक्रम संयोजक योगेश,चेतन,मनीष के साथ मिल वितरित किया।

मौके पर व्यापारियों,आम नागरिकों व समाजसेवियों ने पर्यावरण के हित में सुनहरी किरण संस्था के द्वारा उठाए गए इस कदम की भूरि-भूरि प्रषंसा करते हुए मानव कल्याण के इस कार्य में भरपूर सहयोग देने का विश्वास भी sdm को दिलाया।

संस्था संस्थापक सदस्य डॉ दिग्पाल सिंह ने बताया कि प्लास्टिक के कचरे की समस्या से निजात पाने के लिए प्लास्टिक थैलियों के विकल्प के रूप में जूट से बने थैलों का इस्तेमाल ज़्यादा से ज़्यादा किया जाना चाहिए।साथ ही प्लास्टिक कचरे का समुचित इस्तेमाल किया जाना चाहिए।देश में सड़क बनाने और दीवारें बनाने में इसका इस्तेमाल शुरू हो चुका है।अब तो प्लास्टिक की प्लेट,गिलास और कप की तर्ज़ पर पत्तल और दोनो भी ख़ूब चलन में हैं।

तो वहीं संस्था सदस्य अनुराधा शर्मा ने कहा कि प्लास्टिक ज़िन्दगी का एक अहम हिस्सा बन चुका है।अमूमन हर चीज़ के लिए प्लास्टिक का इस्तेमाल हो रहा है,वो चाहे दूध हो, तेल,घी,आटा,चावल,दालें,मसालें,कोल्ड ड्रिंक,शर्बत,स्नैक्स, दवायें,कपड़े हों या फिर ज़रूरत की दूसरी चीज़ें सभी में प्लास्टिक का इस्तेमाल हो रहा है।

अनुराधा शर्मा ने कहा कि पहले कभी लोग राशन, फल या तरकारी ख़रीदने जाते थे,तो प्लास्टिक की टोकरियां या कपड़े के थैले लेकर जाते थे।अब ख़ाली हाथ जाते हैं,पता है कि प्लास्टिक की थैलियों में सामान मिल जाएगा।लोग इन्हें इस्तेमाल करते हैं और फिर कूड़े में फेंक देते हैं। लेकिन इस आसानी ने कितनी बड़ी मुश्किल पैदा कर दी है,इसका अंदाज़ा अभी जनमानस को नहीं है।

कार्यक्रम संयोजक योगेश ने कहा कि हमें अपने शहर को साफ सुथरा रखने और पर्यावरण को संरक्षित रखने के लिए सिंगल यूज प्लास्टिक से तौबा कर लें। कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भारत को सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्त करने के अभियान को हम सब मिलकर सफल बनाएंगे इसका संकल्प लें। उन्होंने कहा कूड़ा खुले में डालकर डस्टबिन में ही डालें।

sdm बल्लबगढ़ त्रिलोक,विधायक भाई टिपर चंद शर्मा,पार्षद बुद्धा सैनी,पार्षद दीपक यादव के साथ इस जागरूक अभियान में डॉ दिग्पाल सिंह,अरुण सिंह,राकेश चावला,मनीष तेवतिया,अनुराधा शर्मा,सीमा भारद्धाज,बंटी,हरीश चौधरी,प्रेम खटटर,गजना,सोनू चौधरी,प्रेम मदान,सुषमा,गौतम,गीता,पंकज,विनोद वसिष्ठ,मिनाक्षी,सरदार देवेंदर सिंह,सचिन चौधरी,कौशल,रेनू चौधरी,दीपक सूद सहित अनेकों व्यापारी व समाजसेवी भी सम्मिलित हुए।

LEAVE A REPLY