“सारी खुदाई एक तरफ,जोरू का भाई एक तरफ”(भड़ाना-नागर टिकट)

0
806

आजतक खबरें,फरीदाबाद(अमित चौधरी) :तेजी से सिकुड़ती दुनिया,सिमट रिश्ते,रिस्तेदारी के प्रति मन के खटास के बीच आज भी एक रिस्ता जिन्दा है तो वो है जीजा-साले(पत्नि का भाई)का।ताजा भड़ाना टिकट प्रकरण को देख कर तो यही लगता है।

वैसे तो ये बहुत पुराणी कहावत है कि “सारी खुदाई एक तरफ,जोरू का भाई एक तरफ”लेकिन आज फिर एक बार इस कहावत को शहर में चर्चा का विषय बना दिया है ललित नागर व् अवतार भड़ाना की टिकट दावेदारी ने।

जहाँ एक तरफ ललित नागर जीजा जी(रॉबर्ट वाड्रा)के दम पर टिकट की दावेदारी कर रहे थे तो वहीं दूसरी ओर अवतार भड़ाना साले(राहुल गाँधी-सोनिया)के दम पर।

बतादें,काफी उठक पठक के बाद ललित नागर के नाम की घोषणा भी हो गयी थी और लगने लगा अवतार भड़ाना नाम का सूरज अब ढलने ही ओर है।

ललित नागर ने फरीदाबाद लोकसभा के गॉवों में जा जा अपना प्रचार करना भी शुरू कर दिया था।न चाहते हुए भी अधमन से ललित नागर रूठे अपनी पार्टी के नेताओं को मनाने दर दर की चौखटों पर जा रहे थे।कई जगर ललित का भव्य स्वागत भी हुआ।प्रचार अपनी लय पकड़ता दिखाई दे रहा था।

लेकिन अंदर ही अंदर राहुल सोनिया के माध्यम से पार्टी की टिकट पाने की कोशिश में लगे अवतार भड़ाना टिकट पाने में फिर से सफल हो ललित नागर के सामने अवतरित हो गए।और एक बार फिर सही साबित हो गया कि “सारी खुदाई एक तरफ,जोरू का भाई एक तरफ” .

कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशी के रूप में आज अब अवतार सिंह भड़ाना आज फरीदाबाद सीट से अपना नामांकन दाखिल करेंगे.इस बात की चर्चा बनीं हुई थी प्रत्याशी ललित नागर को बदल कर अवतार सिंह भड़ाना को प्रत्याशी बनाए जाने से भाजपा प्रत्याशी कृष्णपाल गुर्जर की भी मुश्किलें बढ़ गई।

 

Amit Chaudhary

LEAVE A REPLY