क्या कंक्रीट के जंगल को हम स्मार्ट सिटी बोलेंगे :राजकुमार गोयल

0
19

आजतक खबरें,फरीदाबाद:आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में सुविधाओ के दौर में बच्चो को अच्छे से अच्छे पढ़ाना लिखाना तो अच्छा हो रहा है,लेकिन पर्यावरण संरक्षण की ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा है,कंक्रीट के जंगल को हम स्मार्ट सिटी बोलेंगे या फिर शहर के उन नागरिकों को जो खुद स्मार्ट बन शहर को स्मार्ट सिटी स्वरूप देंगे.

उक्त शब्द निराशा के भाव लाते हुए शहर फरीदाबाद से जुड़े गम्भीर मुद्दों जैसे स्वास्थ्य संकट,जल संकट,प्राणवायु संकट,धरती संकट व नागरिक के तौर पर हमारी जिम्मेदारियाँ आदि विषयों पर परिचर्चा के अन्तर्गत अपनें विचार रखते हुए पँचगव्य एवं मर्म चिकित्सा विशेषज्ञ भाई राजकुमार ने आज फरीदाबाद सेक्टर १६ जेड पार्क में आयोजित “मैं और मेरा शहर” अभियान के अंतर्गत आयोजित गोष्ठी के दौरान “राजीव दीक्षित स्वदेशी रक्षक संघ” सदस्यों को सम्बोधित करते हुए कहे।

मौके पर राजकुमार गोयल ने स्वस्थ जीवनशैली, प्राकृतिक भोजन,प्रदूषणमुक्त फरीदाबाद और स्मार्ट सिटी से पहले स्मार्ट सिटीजन बनाने की आवश्यकता को बताया।

गोयल ने कहा कि फरीदाबाद को प्रदूषण में नंबर दो पर स्थान मिला है ,जो कि बहुत बड़ा गंभीर प्रश्न चिन्ह हम सभी के बीच लगाता है।गोयल ने आग्रह किया कि हम सभी को अपने आसपास के लोगों का सहयोग लेकर पेड़ लगाने से लेकर पानी बचाने का कार्य करना चाहिए।

राजकुमार ने बताया कि बैंगलोर में पिछले कुछ दिनों से समाचार पत्रों में खबर आ रही है कि पानी की कमी के चलते आईटी कंपनियों के ऑफिस कई कर्मचारियों को घर से कार्य करने के आदेश दे दिए गए हैं।उनके ऑफिस में अपने कर्मचारियों को देने के लिए पानी नहीं है।चेन्नई जैसे तटीय इलाकों में पानी की किल्लत को दूर करने के लिए पानी के टैंकर पहुंचाए जा रहे है।

वहीं मौके पर “राजीव दीक्षित स्वदेशी रक्षक संघ” संस्था के सुरेंदर यादव ने जीवनशैली प्राकृतिक चिकित्सा के विषय पर महत्पूर्ण जानकारी दी।सुरेंदर यादव ने बताया कि प्राकृतिक भोजन organic food के लिए राजीव दीक्षित स्वदेशी रक्षक संघ के प्रयास से “जैविक किसानों का सीधा बाजार” किसान भवन सेक्टर 16 में शुरू किया गया है।

वहीं  “महानायक स्मृति मंच” के अरविंद त्यागी ने आग्रह किया कि शहर के सभी प्रमुख संगठन व् शहरवासिओं को शहर को स्मार्ट व् स्वस्थ बंनाने के लिए साथ आना चाहिए,वहीं नागरिक जागरूकता मंच के अनिल शर्मा ने अपने संगठन की तरफ से पीपल बरगद नीम आदि छायादार भारतीय पेड़ लगाने के लिए सहयोग देने की सहमति जताई।

बतादें क़ि “राजीव दीक्षित स्वदेशी रक्षक संघ” का मुख्य उद्देश्य स्वदेशी स्वावलंबी भारत के लिए अपने प्राण न्योछावर करने वाले अमर शहीद राजीव भाई के सपने और अधूरे कार्यो को पूरा करने के लिए भारत को विकसित के साथ विश्व गुरू बनाना है साथ ही भारत में हो रहे नैतिक एवम् चारित्रिक पतन को रोककर त्याग आधारित सनातन संस्कृति को स्थापित करना है।

इस परिचर्चा में नरेश सेन,प्रशांत भारद्वाज,बृजेश सिंह चौहान,प्रवीण गुप्ता,विवेक राजवंश,राहुल शर्मा,अभिषेक सेठ आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY